Valsad Online
Join Telegram Valsad ValsadOnline
Thoughts

संत कबीर दास के दोहे गागर में सागर के समान हैं

guru-kabir-Valsad-ValsadOnline

“जिन खोजा तिन पाइया, गहरे पानी पैठ,
मैं बपुरा बूडन डरा, रहा किनारे बैठ। ” ~kabir…
Meaning: जो प्रयत्न करते हैं, वे कुछ न कुछ वैसे ही पा ही लेते हैं जैसे कोई मेहनत करने वाला गोताखोर गहरे पानी में जाता है और कुछ ले कर आता है। लेकिन कुछ बेचारे लोग ऐसे भी होते हैं जो डूबने के भय से किनारे पर ही बैठे रह जाते हैं और कुछ नहीं पाते।

Related posts

चाणक्य के अनमोल वचन

ValsadOnline

Swami Vivekananda

ValsadOnline

संत कबीर दास के दोहे

ValsadOnline