Valsad Online
Join Telegram Valsad ValsadOnline
History

आज का इतिहास:इंदिरा गांधी की सत्ता में वापसी, पिछले चुनाव से 200 सीटें ज्यादा जीत ली थीं

aaj-ka-itihas-today-history-india-world-7-january-indira-gandhi-belchi-elephant-ride-first-us-presidential-election-Valsad-ValsadOnline

मार्च 1977 में जब देश से आपातकाल हटाया गया, तो जनता में इंदिरा गांधी और कांग्रेस को लेकर भयंकर गुस्सा था। 1977 में जब चुनाव हुए, तो कांग्रेस पार्टी को बुरी हार मिली। आजादी के बाद ये पहली बार था, जब कांग्रेस को लोकसभा में महज 154 सीटें ही मिली थीं। 1980 में जब लोकसभा चुनाव हुए, तो इंदिरा गांधी की जबरदस्त वापसी हुई। 1980 में आज ही के दिन केंद्र में दोबारा इंदिरा गांधी की सत्ता में लौटी थीं। उस चुनाव में कांग्रेस ने 354 सीटें जीती थीं।

जनता पार्टी की जिस सरकार को इंदिरा से नाराजगी की वजह से चुना गया था, उसी जनता पार्टी ने इंदिरा की सत्ता में वापसी का रास्ता साफ किया था। 1980 के चुनाव में कांग्रेस की दो मुख्य विरोधी पार्टियां जनता पार्टी और लोकदल को इतनी सीटें भी हासिल नहीं हुईं कि उन्हें राष्ट्रीय पार्टी का दर्जा मिल सके।

चुनाव प्रचार 63 दिनों तक चला था। उस दौरान 62 साल की इंदिरा गांधी ने एक दिन में 20-20 भाषण दिए थे और कुल 40 हजार किलोमीटर का दौरा किया था।

बात 11 अगस्त 1977 की है। उस समय इंदिरा गांधी प्रधानमंत्री नहीं थीं और देश में जनता पार्टी की सरकार थी। इससे कुछ महीने पहले 27 मई 1977 को पटना के बेलछी गांव में आठ दलित और तीन सुनारों की हत्या कर दी गई थी। तब इंदिरा गांधी बेलछी गांव पहुंचीं।

इंदिरा गांधी की जीप कीचड़ में फंस गई। इंदिरा जी बोलीं- हम वहां पैदल जाएंगे, लेकिन तभी उनके लिए हाथी मंगवाया गया। इंदिरा गांधी खुद हाथी पर चढ़ीं और बेलछी गांव पहुंचीं। हाथी पर सवार उनकी तस्वीर देश-दुनिया में छा गई। माना जाता है कि 1980 में इंदिरा की सत्ता में वापसी की एक बड़ी वजह बेलछी यात्रा भी थी।

अमेरिका में पहली बार चुनाव हुए
आज ही के दिन 1789 में अमेरिका में पहली बार चुनाव हुए थे। इस चुनाव की खास बात ये थी कि चुनाव में वोट डालने का अधिकार उसे ही मिला था, जिसके पास संपत्ति थी। उम्मीद के मुताबिक ही पहले चुनाव में जॉर्ज वॉशिंगटन जीते और उन्होंने 30 अप्रैल 1789 को अमेरिका के पहले राष्ट्रपति के तौर पर शपथ ली। अमेरिका में आज भी उसी इलेक्टोरल कॉलेज सिस्टम के तहत चुनाव होते हैं, जैसा कि 1789 में हुआ था।

भारत और दुनिया में 7 जनवरी की महत्वपूर्ण घटनाएं :

  • 2017: पुर्तगाल के पूर्व राष्ट्रपति मारियो सोरेस का निधन हुआ।
  • 2015: पेरिस में दो बंदूकधारियों ने चार्ली आब्दो के कार्यालय पर हमला किया, जिसमें 12 लोगों की मौत हो गई और 11 अन्य लोग घायल हो गए।
  • 2009 : आई टी कंपनी सत्यम के चेयरमैन रामालिंगम राजू ने अपने पद से इस्तीफा दिया।
  • 2008: राष्ट्रपति प्रतिभा पाटिल ने विनोद राय को नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक के पद की शपथ दिलाई।
  • 2003: जापान ने विकास कार्यों में मदद के लिए भारत को 90 करोड़ डॉलर की मदद की घोषणा की।
  • 2000: जकार्ता (इंडोनेशिया) में हजारों मुसलमानों ने मोलुकस द्वीप समूह में ईसाइयों के विरुद्ध जेहाद की घोषणा की।
  • 1999: अमेरिकी राष्ट्रपति बिल क्लिंटन के विरुद्ध महाभियोग की कार्रवाई शुरू हुई।
  • 1989: जापान के सम्राट हिरोहितो का देहावसान, आकिहितो नए सम्राट घोषित।
  • 1987: कपिल देव ने टेस्ट क्रिकेट में तीन सौ विकेट पूरे किए।
  • 1972: स्पेन के इबीसा क्षेत्र में विमान दुर्घटना में चालक दल के छह सदस्यों समेत 108 यात्रियों की मौत।
  • 1959: संयुक्त राज्य अमेरिका ने क्यूबा में फिदेल कास्त्रो की नई सरकार को मान्यता प्रदान की।
  • 1953: अमेरिकी राष्ट्रपति हैरी ट्रूमैन ने हाइड्रोजन बम बनाने की घोषणा की।
  • 1859: सिपाही विद्रोह मामले में मुगल शासक बहादुरशाह जफर (द्वितीय) के खिलाफ़ सुनवाई शुरू।
  • 1761: पानीपत की तीसरी लड़ाई में अफगान शासक अहमद शाह अब्दाली ने मराठों को हराया।

Source

Related posts

अतीतराग:प्राचीन समय से ही भारत के थे कई देशों से व्यापारिक रिश्ते, मसाले और रेशम के दीवाने थे यूरोपवासी

ValsadOnline

आज का इतिहास :आज ही के दिन रिहा हुए-444 दिन ईरान में बंधक थे अमेरिका के 52 नागरिक.

ValsadOnline

आज का इतिहास : क्रांतिकारी रास बिहारी बोस

ValsadOnline