Valsad Online
Join Telegram Valsad ValsadOnline
History

आज का इतिहास :- आप भी जानिए क्या है ISO सर्टिफिकेशन ?

itihas-valsad-valsadonline

आपने अक्सर सुना होगा कि फलां कंपनी ISO 9001 सर्टिफाइड है। यह भरोसा देता है कि उस कंपनी के प्रोडक्ट्स और सेवाओं की क्वालिटी अच्छी होगी। यह ISO कुछ और नहीं बल्कि अंतरराष्ट्रीय मानकीकरण संगठन या इंटरनेशनल ऑर्गेनाइजेशन फॉर स्टैंडर्डाइजेशन है जो आज ही के दिन 1947 में बना था। यह एक गैर-सरकारी संगठन है, जिससे दुनिया के 165 देश सदस्य के तौर पर जुड़े हैं।

ISO सर्टिफिकेशन अपने कारोबार की विश्वसनीयता के साथ-साथ व्यापार में सुधार के लिए मदद करता है। ISO कई तरह के सर्टिफिकेट देता है, जैसे- ISO 9000, ISO 9001, ISO 9001:2015 और यह सब कहीं न कहीं प्रोडक्ट और सर्विसेज की क्वालिटी के बारे में हैं। बदलते समय के साथ जरूरतें और मानक भी बदल रहे हैं और उन्हें अपडेट किया जा रहा है। ISO 9000 से लेकर ISO 9001 तक के अपडेट्स इन्हीं बदलावों पर आधारित हैं।

ISO सर्टिफिकेशन इंडस्ट्री के कई क्षेत्रों में होता है, जिनमें एनर्जी मैनेजमेंट और सोशल रिस्पॉन्सबिलिटी से लेकर मेडिकल उपकरण तक शामिल हैं। यह प्रक्रिया पर मुहर लगाता है और निरंतरता की पुष्टि करता है। हर सर्टिफिकेट के लिए अलग स्टैंडर्ड्स हैं और नियम-शर्तें भी उसी अनुसार तय की जाती हैं।

ISI से कितना अलग है ISO?

जब भी हम इलेक्ट्रॉनिक आइटम खरीदने जाते हैं तो यह जरूर देखते हैं कि उस पर ISI मार्क है या नहीं। यह मार्क हमें क्वालिटी का भरोसा देता है। ISI का मतलब होता है- इंडियन स्टैंडर्ड्स इंस्टीट्यूशन। यह संस्था 1955 में बनी थी और फिर भरोसे का प्रतीक बन गई। 1987 में इसका नाम बदला और अब इसे ब्यूरो ऑफ इंडियन स्टैंडर्ड्स (BIS) या भारतीय मानक ब्यूरो कहा जाता है। अब भी कई इलेक्ट्रिक आइटम्स समेत कुछ वस्तुओं पर ISI लगाना अनिवार्य है। ISI अगर किसी प्रोडक्ट की क्वालिटी का भरोसा देता है तो ISO किसी प्रोडक्ट को बनाने या सर्विसेज देने की प्रक्रिया को सर्टिफाई करता है।

देश-दुनिया में 23 फरवरी को हुई घटनाएं…

2010: कतर ने भारत के मशहूर चित्रकार एम.एफ. हुसैन को नागरिकता दी।

2006ः इराक में हुई जातीय हिंसा में लगभग 160 लोगों की जान गई।

2004: हिन्दी फिल्मों के प्रतिभाशाली अभिनेता, निर्माता, निर्देशक और संपादक विजय आनन्द का निधन। उनकी फिल्म ‘गाइड’ को बेहतरीन फिल्मों में शुमार किया जाता है।

1981: स्पेन में दक्षिणपंथी सेना ने तख्तापलट किया, जिससे राजनीतिक अनिश्चितता की स्थिति पैदा हो गई।

1970ः आज के दिन को गुयाना देश का राष्ट्रीय दिवस घोषित किया गया।

1969ः भारतीय फिल्म अभिनेत्री मधुबाला का निधन।

1967ः अमेरिकी सेनाओं ने वियतनाम युद्ध में बड़ा हमला शुरू किया।

1964: चीन ने अपनी स्थिति में बदलाव करते हुए कश्मीर मसले पर पाकिस्तान का खुलकर समर्थन किया।

1952: कर्मचारी भविष्य निधि और विविध प्रावधान अधिनियम पारित किया गया।

1945: अमेरिका ने जापान के कब्जे वाले टापू ईवो जीमा पर अपना परचम फहराया। इस टापू की स्थिति सामरिक रूप से बहुत महत्वपूर्ण थी।

Source

Related posts

आज का इतिहास :नुक्कड़ नाटक को पहचान दिलाने वाले की नाटक करते हुए हत्या हुई

ValsadOnline

याद करो वह दिन :” हमारे राष्ट्रीय शहीदोंको श्रद्धांजलि “

ValsadOnline

इतिहास में आज:देश की सबसे पुरानी राजनीतिक पार्टी का जन्म, इसकी स्थापना अंग्रेज ने की, लेकिन पार्टी ने आजादी की लड़ाई लड़ी

ValsadOnline